Header Ads

Header ADS

नागरिकता संशोधन कानून पर जनजागरण अभियान को तैयार भाजपा, 26 को शंखनाद



चंडीगढ़
24 दिसम्बर, 2019
नागरिकता संशोधन कानून 2019 को लेकर फैली भ्रांतियों को दूर करने और कानून के सही परारूप को जनता तक पहुँचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यक्रमों की एक विशेष श्रृंखला का आयोजन कर रही हैl  
यह जानकारी देते हुए भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने बताया कि उनकी पार्टी समाज के बीच जाकर नागरिकता संशोधन कानून के वास्तविक रुप को जनजागरण अभियान के तहत जनता के समक्ष रखेगी। नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर कांग्रेस और विरोधियों के षड्यंत्र का पर्दाफाश करने के लिए 26 दिसम्बर से कार्यक्रमों की एक विशेष श्रृंखला के माध्यम से जनजागरण किया जाएगाl 
बराला ने बताया कि भाजपा हरियाणा द्वारा नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जनजागरण अभियान की तैयारी हेतु सूचीबद्ध कार्यकर्ताओं की एक विशेष कार्यशाला का आयोजन 26 दिसम्बर को रोहतक में किया जाएगा। जिसका प्रमुख सांसद संजय भाटिया को बनाया गया हैl
मंगलवार को चंडीगढ स्थित भाजपा कार्यालय में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बराला ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर कांग्रेस झूठ के सहारे भ्रम फैलाते हुए अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने का काम कर रही है। नागरिकता संशोधन कानून किसी की नागरिकता छीनने का नहीं बल्कि नागरिकता देने का कानून है। पाकिस्तान, बांगलादेश और अफगानिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना का शिकार होकर भारत में आए लोगों को नागरिकता देने की बात नागरिकता संशोधन कानून 2019 कहता है।
उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में नागरिक संशोधन बिल को पास करने का संकल्प किया था। जिसको भाजपा ने पूरा किया है। जिस पर विपक्ष द्वारा हो हल्ला करने का कोई कारण नहीं बनताl
बराला ने बताया कि कांग्रेस और वामपंथी दल जिस कानून का आज विरोध कर रहे हैउनको शायद  याद नहीं कि 26 सितम्बर 1947 को प्रार्थना सभा में महात्मा गांधी ने स्वयं कहा था कि पाकिस्तान और पूर्वी पाकिस्तान में जिस तरह हिन्दूसिख और गैर मुस्लिम लोगो को प्रताड़ित किया जा रहा है, ऐसी स्थिती में भारत को उन लोगों को सहारा देते हुए उनको नागरिता के साथ – साथ रोजगार देने की भी व्यवस्था करनी चाहिए। बराला ने कहा कि इंदिरा गांधीराजीव गांधी समेत कांग्रेस के कई नेताओं ने भी पाकिस्तान और अन्य देशों के प्रताड़ित लोगों को नागरिकता देने पर अपनेअपने स्तर पर काम किया लेकिन नागरिकता संशोधन कानून जैसा कानून बनाकर स्थाई नागरिकता देने का माननीय नरेन्द्र मोदी जैसा काम नहीं कर पाए।
बराला ने प्रताड़ित लोगों के बारे में बताते हुए कहा कि तरहतरह के उत्पीडन जिसमें जमीनों पर कब्जेबहनबेटियों के साथ बलात्कारजबरदस्ती धर्मांतरण और मांस खिलाने जैसी अमानवीय यातनाए उन लोगों को झेलनी पड़ती है। मानवता के आधार पर भारतीय नागरिकों व भारत सरकार की जिम्मेदारी बनती है, कि ऐसी प्रताड़ना झेलने वाले लोगों को संरक्षण देते हुए भारतीय परंपरा का निर्वहन किया जाए।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा, "नागरिकता संशोधन कानून 2019 की आड़ में देश को अस्थिरता की ओर धकेलने की कांग्रेस की नाकाम कोशिश को भारतीय जनता पार्टी कभी सफल नहीं होने देगी। भाजपा कांग्रेस व वामदलों के इस षड़यंत्र की घोर निंदा करती है। भारतीय जनता पार्टी समाज के बीच जाकर नागरिकता संशोधन कानून के वास्तविक रुप को जनजागरण अभियान के तहत जनता के समक्ष रखेगी। नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर कांग्रेस और विरोधियों के षड्यंत्र का पर्दाफाश करेगीl"

No comments

Powered by Blogger.