Header Ads

Header ADS

आप ने उम्मीदवारों के लिए रखी शर्त, लोकसभा व विधानसभा क्षेत्रों से देने होंगे हज़ारों सहमति पत्र



चंडीगढ़, 
06 मार्च, 2019

हरियाणा में लोकसभा औऱ विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों के लिए प्रक्रिया की शुरुआत करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) ने ऐलान किया है कि लोकसभा के लिए इच्छुक उम्मीदवार को अपने लोकसभा क्षेत्र से पांच हज़ार लोगों के हस्ताक्षर, पते और फोन नम्बर सहमति पत्र पर देने होंगे जबकि विधानसभा के लिए एक हजार की शर्त रखी है।

आज यहाँ प्रेसक्लब में एक प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए
आप के प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कहा कि आप ने उम्मीदवारों के लिए जो आवेदन परफॉर्मा तैयार किया है उसमें उम्मीदवार का क्रिमनल रिकॉर्ड ना हो साथ ही सोशल मीडिया में अपडेट समेत कई कॉलम रखें है।

जयहिंद ने कहा कि प्रत्याशी चयन प्रक्रिया शुरू कर रहे हैं। चुनाव में नौजवान, सैनिक और महिलाओं को प्राथमिकता देंगे,  जो काम दिल्ली में किए इनको डोर टू डोर लेकर जा रहे हैं।

जयहिंद ने कहा कि आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव उनकी पार्टी दिल्ली मॉडल पर लड़ेगी। जिस प्रकार दिल्ली में एक रुपए यूनिट बिजली और फ्री इलाज दिया जा रहा है केजरीवाल सरकार की ऐसी योजनाओं को हरियाणा की जनता के बीच लेकर जाएंगे।

जयहिंद ने हरियाणा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएलपीए एक्ट में बदलाव हजारों करोड़ रुपए का घोटाला है।

नवीन जयहिंद का आरोप हरियाणा सरकार ने पीएलपीए एक्ट में संसोधन किया है इसके जरिए अरावली को खाएगी।
इससे साफ दिख रहा ये सरकार का बड़ा घोटाला है।

उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व की हुड्डा सरकार ने सीएलयू में धांधली बरती अब खट्टर सरकार बिल्डर्स को फ़ायदा दे रही है।

जयहिंद ने कहा पीएलपीए एक्ट के विरोध में आप प्रदेशभर में प्रदर्शन करेगी।

No comments

Powered by Blogger.