Header Ads

Header ADS

खट्टर सरकार का अतिथि अध्यापकों को तोहफा, विधानसभा में ‘हरियाणा अतिथि शिक्षक सेवा विधेयक, 2019’ पारित



चंडीगढ़, 
27 फरवरी, 2019

प्रदेश में अतिथि अध्यापकों (guest teachers) को बड़ी राहत देते हुए मौजूदा मनोहर लाल खट्टर सरकार ने आज ‘हरियाणा अतिथि शिक्षक सेवा विधेयक, 2019’ विधानसभा में पारित किया।

सदन में हरियाणा के संसदीय कार्य व शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने ‘हरियाणा अतिथि शिक्षक सेवा विधेयक, 2019’ प्रस्तुत किया और बाद में चर्चा के बाद बहुमत से पास हो गया।

शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने अतिथि शिक्षकों से जो वायदा किया था आज उसे पूरा करते हुए उन अध्यापकों को तोहफा देने का काम किया है। हालांकि ये अतिथि अध्यापक कांग्रेस सरकार ने नियुक्त किए थे परंतु वर्तमान सरकार ने बिना भेदभाव के इन अध्यापकों के पक्ष में आज ‘हरियाणा अतिथि शिक्षक सेवा विधेयक, 2019’ विधानसभा में पारित करके हजारों परिवारों के घरों में खुशी देने का काम किया है।
उन्होंने बताया कि वैसे तो कोर्ट ने इन अतिथि अध्यापकों को हटाने के आदेश दे दिए थे परंतु वर्तमान सरकार ने इन अतिथि अध्यापकों के पक्ष में शपथ-पत्र देकर न केवल इनकी नौकरी को बचाए रखा बल्कि इनके वेतन में भी भारी-भरकम बढ़ौतरी की है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि जब ये अतिथि अध्यापक नई दिल्ली में तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के निवास के बाहर नियमित करने की मांग को लेकर धरने पर बैठे थे तो उन्होंने हुड्डा को उस वक्त इन अध्यापकों की मांगों को मानकर 12 घंटे के अंदर धरने से उठने के लिए मनाने का अल्टीमेटम दिया था। उन्होंने कहा कि आज वे गौरवान्वित हैं कि हरियाणा सरकार ने इन अतिथि अध्यापकों को वैधता प्रदान करके सेवानिवृत्ति की आयु तक विभाग में कार्य करने की अनुमति दी है।

शर्मा ने बताया कि वर्ष 2014 में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में करीब 22,000 अतिथि अध्यापकों की नियुक्ति की गई थी जिनमें जेबीटी,टीजीटी तथा पीजीटी अध्यापक शामिल थे।

उन्होंने बाद में बताया कि इन अतिथि अध्यापकों को पहले एक पीरियड के हिसाब से पैसे मिलते थे परंतु वर्तमान सरकार ने इनको वेतन पर लाकर बढ़ौतरी की है। हरियाणा सरकार ने प्रदेश में कार्यरत गेस्ट टीचर्स का वेतन सितंबर 2018 में 25 फीसदी बढ़ाया। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने गेस्ट टीचर्स के वेतन में बढ़ोतरी करते हुए इसे 26 हजार रुपये से लेकर 36 हजार रुपये तक कर दिया है।

शिक्षा मंत्री ने बताया की पहले जेबीटी और ड्राइंग टीचर्स को 21 हजार 715 रुपये मिलते थे अब उन्हें 26 हजार रुपये प्रतिमाह मिलेंगे। टीजीटी को 24 हजार 1 रुपये की जगह 30 हजार रुपये और पीजीटी और लेक्चरर को 29 हजार 715 की जगह 36 हजार रुपये मासिक वेतन मिलेगा। उन्होंने  बताया कि अब गेस्ट टीचर्स के वेतन में साल में दो बार यानि 1 जनवरी और 1 जुलाई को बढ़ोतरी होगी। 

No comments

Powered by Blogger.