Header Ads

Header ADS

मिलिए हरियाणा के ट्रेंडसेटर एमएलए से



चंडीगढ़,
28 दिसंबर, 2018

हर बार हरियाणा विधानसभा के सत्र के दौरान अक्सर विधानसभा परिसर में आने वाले नेताओं की फोटो मीडिया के छायाकार बन्धुओं द्वारा खींची जाती हैं, हर सत्र में नेता आते हैं पर पहनावा और शैली (style) अलग होती है पर पिछले कुछ सालों से एक फोटो हर बार की तरह कॉमन होती है जिसमें एक विधायक बिना किसी वीआईपी कल्चर के साइकिल पर आते हैं।

तकरीबन चार साल पहले हरियाणा की मौजूदा 13वीं विधानसभा में विधायक के तौर पर चुनकर आये थे और तब से अब तक प्रदेश की राजधानी चंडीगढ़ में अपने सभी आधिकारिक कार्यों के लिए साइकिल से सफर करने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लाडवा विधायक डॉ पवन सैनी ने विशिष्ट राजनीतिक की बजाय 'साइकिल मैन' के रूप में अपनी पहचान को प्राथमिकता देना अच्छा समझा।

फाइलों को स्वदेशी थैले में डालकर, पूर्णतया साधारण व्यक्तित्व को संजोये साइकिल से चलने वाले चलने वाले डॉ पवन सैनी वीवीआईपी कल्चर को त्यागने वाले पहले उन नेताओं में से एक हैं जिन्होंने सबसे पहले नारंगी बत्ती अपनी गाड़ी से उतारी थी।

यही नहीं, आम जान-जीवन में भी इन उदाहरणों को लागू किया। लोगों को पर्यावरण के अनुकूल शैली (eco-friendly स्टाइल) के लिए प्रेरित करने के लिए साइकिल का उपयोग करने वाले डॉ पवन सैनी ने उनके गृह जिले कुरुक्षेत्र में 'सांझी साइकिल' योजना आरम्भ करवाई जिसके तहत शहर में यात्रा करने के लिए किराए पर साइकिल उपलब्ध कराई गई, यहां तक कि स्मार्ट कार्ड के ज़रिये भी यह सुविधा दी गई ताकि हर बार नकदी ले जाये बिना योजना का लाभ उठाया जा सके। उक्त योजना के शुभारंभ के साथ, सैनी कुरुक्षेत्र को मंगलवार के दिन कार-मुक्त बनाने के अपने प्रयासों में भी सफल रहे।

अपने विधानसभा क्षेत्र में जल-संरक्षण, वृक्षारोपण और वृक्षों के संरक्षण, स्वच्छ्ता, सड़क-सुरक्षा, पॉलीथीन मुक्त क्षेत्र और स्वदेशी को अपनाने सहित कई कार्यक्रमों को लेकर सैनी सुर्ख़ियों में रहे हैं।


इनके अलावा 'सांझी साइकिल योजना', 'मेरा गाँव हरा-भरा गाँव', 'जल संरक्षण अभियान', 'सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र', 'अपराध मुक्त निर्वाचन क्षेत्र', 'पॉलिथीन मुक्त विधानसभा', और 'स्वदेशी ग्राम' जैसी कईं योजनाएँ लागू कर सैनी ने लोगों के दिलों में जगह बनाई है।

No comments

Powered by Blogger.