Header Ads

Header ADS

मौलिक अधिकारों के हनन को लेकर मानव अधिकार आयोग का दरवाजा खटखटाएंगे रोडवेज कर्मचारी



 चंडीगढ़,
12 नवंबर, 2018

पिछले महीने तक़रीबन 18 दिनों तक चली हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल से सम्बंधित मामला जल्द ही मानव अधिकार आयोग पहुँच सकता हैl 

हड़ताल के दौरान अपने मौलिक अधिकारों के हनन का दावा करते हुए आज रोडवेज नेताओं ने खुलासा किया है कि एक महिला कर्मचारी नेता से जेल में टॉयलेट तक साफ करवाने का काम किया गयाl   

आज यहाँ सरकार के साथ बातचीत के बाद पत्रकारों से बात करते हुए रोडवेज नेताओ ने कहा कि हड़ताली कर्मचारियों के साथ हिसार, भिवानी और रोहतक में भी अमानवीय व्यवहार किया गया और अब इन सब मुद्दों को लेकर वो जल्द ही मानव अधिकार आयोग में शिकायत करेंगेl 

रोडवेज नेताओ ने रोडवेज नेताओं का कहना है कि हरियाणा के परिवहन मंत्री ही जेल मंत्री है और जानबूझकर कर्मचारियों को प्रताड़ित किया गयाl 

उन्होंने भिवानी जेल अधीक्षक के खिलाफ भी कार्यवाही की माँग की हैl  

गौरतलब है कि रोडवेज हड़ताल मामला पहले ही पंजाब एंव हरियाणा हाई कोर्ट हैl  2 नवंबर को हाई कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल स्थगित की थीl हाई कोर्ट में मामले कि अगली सुनवाई अब 14 नवंबर को होनी हैl 

बहरहाल, रोडवेज नेताओ और सरकार के बीच हुई वार्ता आज भी बिना किसी समाधान के ख़त्म हुईl  

रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के सदस्य अनूप सहरावत ने बैठक के बाद बयान में कहा कि बैठक बेहद शांतिपूर्ण रही और तालमेल कमेटी की मांग पर परिवहन विभाग के एसीएस धनपत सिंह ने आश्वाशन दिया है जल्द मुख्यमंत्री के साथ बैठक कराई जाएगीl 

No comments

Powered by Blogger.