Header Ads

Header ADS

नगर निगम मतदान में कानून व्यवस्था के लिए चुनाव आयोग ने उठाए प्रभावी कदम



चण्डीगढ़, 
28 नवंबर, 2018

हरियाणा के हिसार, रोहतक, यमुनानगर, पानीपत और करनाल के नगर निगमों व जाखल मंडी (फतेहाबाद) और पुंडरी (कैथल) के नगरपालिकों के सभी वार्डों में पार्षदों व महापौर की सीटों के लिए आगामी 16 दिसंबर,  को होने वाले मतदान के तहत संवेदनशील क्षेत्रों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्य चुनाव आयोग ने प्रभावी कदम उठाए हैं।

इस संबंध में जानकारी देते हुए राज्य चुनाव आयुक्त दलीप सिंह ने कहा कि इस बारे में गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव को इन विशेष कदमों को लागू करने के लिए कहा गया है। पुलिस को चौकस होने के लिए कहा गया और मतदान से 10 दिन पहले शरारती तत्वों की छानबीन के लिए आपरेशन शुरू करने के लिए कहा गया है।

उन्होंने बताया कि आचारसंहिता के दौरान हथियार के लिए कोई नया लाईसेंस जारी नहीं किया जाएगा। इसके अलावा, कोई भी व्यक्ति इन चुनावों के दौरान लाईसेंस प्राप्त हथियार या अन्य आगजनी से संबंधित हथियार को लेकर नहीं चलेगा। गैर लाईसेंस हथियारों को जब्त करने के लिए प्रभावी कदम उठाए गए हैं।

आयुक्त ने बताया कि सभी मतदान केन्द्रों, संवेदनशील क्षेत्रों व केन्द्रों पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की जाएगी। आपातकाल की स्थिति में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस बल को पर्याप्त संख्या में वायरलेस सेट भी मुहैया करवाए जाएंगें।

उन्होंने बताया कि शरारती तत्वों पर नजर रखी जाएगी और आने-जाने वाले वाहनों की जांच के दौरान शस्त्र अन्य आगजनी से संबंधित सामान इत्यादि की जांच की जाएगी और उन्हें जब्त किया जाएगा। मतदान से तीन पहले सभी भारी वाहनों जैसे कि लोरी, ट्रक व अन्य वाहनों की पूर्ण जांच की जाएगी ताकि मतदान क्षेत्र के आसपास किसी भी प्रकार की कोई समस्या न उत्पन्न हो।

मतदान के दिन सामान्य तौर पर वाहनों की नियमित आवाजाही रहेगी परंतु इस संबंध में दिशानिर्देश दिए जाएंगें। मतदान से एक दिन पहले व गणना वाले दिन शराब की बिक्री व खपत पर रोक होगी और इस संबंध में आबकारी एवं कराधान विभाग दिशानिर्देश जारी करेगा।

आयुक्त ने बताया कि उन्होंने बताया कि इन चुनावों को पारदर्शी तरीके से सम्पन्न करवाने के लिए राज्य चुनाव आयोग द्वारा संवेदनशील क्षेत्रों के लिए विभिन्न कदम उठाए गए हैं और आगामी 1 दिसंबर से 6 दिसंबर को उम्मीदवारों के नामांकन  भरे जाएंगें और 16 दिसंबर को मतदान होगा।

उन्होंने बताया कि यदि कहीं पर पुन: मतदान की आवश्कता होती है तो ऐसे स्थानों पर आगामी 18 दिसंबर को मतदान की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि इन सभी स्थानों पर होने वाले मतदान की गणना 19 दिसंबर को सुबह 8 बजे से होगी और गणना पूर्ण होते ही तुरंत परिणाम घोषित किया जाएगा। 

No comments

Powered by Blogger.