Header Ads

Header ADS

कैथल के लिए मुख्यमंत्री खट्टर का केन्द्र से आग्रह, पत्र लिख मांगा ऐलीवेटिड रेलवे ट्रैक



चण्डीगढ़, 

28 नवंबर, 2018 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने केन्द्रीय रेल मंत्री पीयुष गोयल से आग्रह किया है कि रोहतक में बनाए गए ऐलीवेटिड रेलवे ट्रैक की तर्ज पर कैथल में नरवाना-कुरूक्षेत्र रेलवे लाईन पर तीन रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी) या रेलवे अंडर ब्रिज (आरयूबी) के निर्माण की बजाय ऐलीवेटिड रेलवे ट्रैक के निर्माण पर विचार किया जाए।

केंद्र को लिखे पत्र के ज़रिये मुख्यमंत्री खट्टर ने गोयल को आश्वासन देते हुए कहा कि इस परियेाजना की लागत का 50 प्रतिशत खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

खट्टर ने कहा है कि तीन महत्वपूर्ण सडक़ों नामत: कैथल-करनाल राज्य राजमार्ग संख्या-8, कैथल शहर के आसपास सर्कुलर रोड, कैथल और कैथल में थानेसर-ढांड-कैथल रोड  पर नरवाना-कुरुक्षेत्र रेलवे लाइन क्रमश: आरडी 38/4/5 (एलसी 33), आरडी 39/4/5 (एलसी 34बी) और आरडी 40/1/2 (एलसी 34ए) है। ये सभी क्रॉसिंग आरओबी / आरयूबी के निर्माण के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं।

उन्होंने कहा कि चूंकि इन स्थानों के क्रॉसिंग पर बड़े सरकारी कार्यालयों, निजी प्रतिष्ठानों और बस स्टैंड के नजदीक स्थित होने के कारण तथा पर्याप्त यातायात के साथ इन आरओबी का निर्माण संभव नहीं होगा क्योंकि यहां पर भूमि अधिग्रहण में कठिनाइयां उत्पन्न होंगी। उन्होंने बताया कि इसलिए इन तीन आरओबी या आरयूबी के निर्माण की बजाय ऐलीवेटिड रेलवे ट्रैक का निर्माण करना आर्थिक रुप से महत्व होगा।

रोहतक में भारत के पहले ऐलीवेटिड रेल ट्रैक की वजह से रेलवे और हरियाणा सरकार ने महत्वपूर्ण साख अर्जित की है और इस परियोजना की तर्ज पर प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी ऐसे प्रोजैक्ट लगाने हेतू राज्य सरकार को अनुरोध प्राप्त हुए है।


No comments

Powered by Blogger.