Header Ads

Header ADS

कर्ज़े के कारण आत्हत्या करने वाले किसान की बेटी की पढ़ाई व शादी का खर्चा उठाएंगे आप नेता जयहिंद




चंडीगढ़,
27 नवंबर, 2018

आम आदमी पार्टी (आप), हरियाणा के अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने ऐलान किया है कि वो झज्जर जिले के गांव खुड्डन में कर्ज़े के कारण आत्महत्या करने वाले किसान प्रकाश पुनिया की बेटी की पढ़ाई व शादी का खर्च वहन करेंगे।

जयहिंद ने न केवल मृत किसान की बेटी को ग्रामीणों की मौजूदगी में धर्म बहन बना उसकी पढ़ाई व शादी का खर्च वहन करने का भी ऐलान किया बल्कि आत्महत्या करने वाले किसान के सिर खड़े कर्ज की राशि को चुकाने में भी परिजनों की मदद करने की घोषणा भी की।

आप प्रदेशाध्यक्ष आज पार्टी नेताओं के साथ खुड्डन गांव पहुंचे और प्रकाश पुनिया की विधवा पत्नी व बच्चों से मुलाकात करके परिवार की वास्तविक स्थिति जानी।

ग्रामीणों व परिजनों की मौजूदगी में प्रकाश पुनिया की बेटी के सर पर हाथ रखते हुए उसे धर्म बहन बनाने का ऐलान किया और कहा कि वह जब तक पढऩा चाहेगी उसका खर्च वह खुद वहन करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर प्रकाश पुनिया का बेटा पढऩा चाहता है या कहीं नौकरी करना चाहेगा तो वह उसकी भी हर संभव मदद करेंगे।

जयहिंद बताया कि वो खुड्डन गांव के खेत भी देखने गए जहां आज भी बारिश का पानी भरा हुआ है और सरकार दावा कर रही है कि खेत पूरी तरह से साफ हो चुके हैं।   



आप नेता ने आरोप लगाया की यह आत्महत्या नहीं अपितु सरकार द्वारा करवाई गई हत्या है

पत्रकारों से बातचीत में जयहिंद ने कहा, "कोई भी किसान जानबूझ कर आत्महत्या नहीं करता है। उसके पीछे उसका पूरा  परिवार होता है। यह आत्महत्या नहीं बल्कि सरकार द्वारा की जा रही हत्याएं हैं। जिसके लिए सीधे तौर पर प्रदेश सरकार इसके लिए जिम्मेदार है।" 

जयहिंद ने कहा कि सरकार बड़े-बड़े उद्योगपतियों के कर्ज माफ कर सकती है, उनके लिए हजारों करोड़ के कर्ज को कोई पूछने वाला कोई है लेकिन किसान के चंद हजार रूपये के लिए सरकार उनकी जमीन भी गिरवी रख लेती है उससे खाली चैक भी ले लेती है।

जयहिंद ने दावा किया है कि खुड्डन गांव के अकेले आत्महत्या करने वाले किसान प्रकाश पुनिया की ही यह हालत नहीं है। गांव के कई किसान इसी हालत में है जो रोज सरकारी अफसरों व मंत्रियों के दफ्तरों, व बैंकों के चक्कर काट काटते हुए मुआवजे के लिए व पानी निकासी के लिए घूम रहे हैं।

चूँकि आत्महत्या करने वाले किसान प्रकाश पुनिया का गाँव प्रदेश के कृषि मंत्री ओ पी धनखड़ के विधानसभा क्षेत्र बादली के अधीन आता है तो इस पर राजनीतिक हमला करते हुए जयहिंद ने कहा कि किसानों के वोट हासिल करने के लिए धनखड़ ने प्रदेश में नंगे होकर धरने-प्रदर्शन किए और किसानों से स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने के झूठे वादे किए परंतु आजतक न तो स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू हुई है बल्कि धनखड़ ने भी अब कोट पैंट पहनकर किसानों से मुंह मोड़ लिया है।


No comments

Powered by Blogger.