Header Ads

Header ADS

नशे के खिलाफ एकजुट उत्तरी राज्य, नेशनल ड्रग पॉलिसी के लिए केंद्र से करेंगे आग्रह



चंडीगढ़, 
25 जुलाई, 2019

आज यहाँ चंडीगढ़ में 'ड्रग मीनेस चैलेंजेज एन्ड स्ट्रेटेजीज' विषय पर दूसरी क्षेत्रीय कॉन्फ्रेस के दौरान उत्तर भारत के सात राज्यों की बैठक के बाद यह फैसला लिया गया कि नशे के खिलाफ केंद्र सरकार से नेशनल ड्रग पॉलिसी बनाने का आग्रह किया जाएगा.

बैठक में हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू एंव कश्मीर उत्तराखंड, दिल्ली व राजस्थान के मुख्यमंत्री तथा आला अधिकारी मौजूद रहे.



बैठक में नशे की तस्करी रोकने के लिए अन्तर्राज्जीय सीमाओं पर संयुक्त अभियान चलाने का फैसला भी लिया गया तथा सभी राज्यों ने आपस मे सूचनाओं का आदान प्रदान करने पर भी सहमति जताई.

जांच अधिकारियों की ट्रेनिंग के लिए चंडीगढ़ में रीजनल ट्रेनिंग सेंटर खोलने पर सहमति बनी और रीजनल ड्रग डिपेंडेंस ट्रीटमेंट सेंटर भी ट्राइसिटी में स्थापित करने पर सहमति बनी जिसके लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा.

सभी राज्य नशे के खिलाफ बड़े स्तर पर जागरूकता अभियान चलाएंगे.

बैठक में युवाओं को नशे से दूर रखने और नशे के काले कारोबार को खत्म करने के लिए संयुक्त रणिनीति पर हुई चर्चा.

सभी राज्यों की अगली बैठक हिमाचल प्रदेश में होगी.



बैठक के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि नशा माफिया ओर नकेल कसने के लिए मकोका की तर्ज हरियाणा में हरकोका बना जाएगा.

खबर है कि विधानसभा के मानसून सत्र में हरकोका को लेकर बिल पास हो सकता है.




कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.