Header Ads

Header ADS

किसान को 5000 रूपये पेंशन पर लग सकती है मुहर, गठित कमेटी जल्द ही सरकार को सौपेंगी रिपोर्ट



चंडीगढ़,
27 दिसंबर, 2018 

बुढ़ापा पेंशन की तर्ज़ पर किसानों की आर्थिक सुरक्षा बरकरार रखने के उद्देश्य से किसान को पेंशन के मुद्दे पर हरियाणा सरकार द्वारा गठित ड्राफ्ट कमेटी जल्द ही अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपेगी।

ड्राफ्ट कमेटी की अगली बैठक 9 जनवरी को होगी। सूत्रों के मुताबिक ड्राफ्ट कमेटी 5000 रूपये प्रतिमाह पेंशन पर विचार कर रही है। जनवरी में आगामी बैठक में किसान पेंशन पर अंतिम मुहर लग सकती है।

प्रति एकड़ , उत्पादन समेत कई पहलुओं पर कमेटी मंथन कर रही है। हरियाणा में तेरह लाख के करीब  किसान परिवार हैं।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला की अगुवाई में इस योजना को लागू करने की प्रक्रिया में ड्राफ्ट तैयार करने वाली कमेटी की बैठक आज यहाँ हरियाणा निवास में सम्पन्न हुई।

सुभाष बराला ने बताया कि यह समिति शीघ्र ही अपनी रिपोर्ट बना कर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को सौंपेगी।

उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों की आमदनी का पुख्ता प्रबंध करने के लिए ही यह पेंशन योजना बनाने के लिए कमेटी बनाई है और सुझाव माँगे हैं। इस प्रकार की योजना के लिए बहुत दिन से विचार था, ताकि ऐसी योजना बनाकर किसानों के हालात बदलने का काम किया जा सके जिस प्रकार हरियाणा सरकार पूरे देश में सबसे ज्यादा बुढ़ापा पेंशन दे रही है, उसी प्रकार से इस किसान पेंशन योजना समिति के सदस्यों का भी विचार है कि इसी तरह किसानों के लिए भी पेंशन योजना बनाई जाए।

कमेटी के सदस्य व लाडवा से भाजपा विधायक पवन सैनी ने बताया कि इस मुद्दे पर ड्राफ्ट बहुत जल्दी तैयार करके मुख्यमंत्री को देंगे, ताकि किसानों की आर्थिक सुरक्षा बनी रहे। उन्होंने कहा कि किसान पेंशन योजना लागू होने के बाद किसान बहुत लाभ की स्थिति में होगा। इससे किसानों तथा खेती पर आधारित लोगों का आर्थिक पक्ष बहुत मजबूत होगा।


कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.